इसे कहते है कप्तानी, Jasprit Bumrah की कैप्टेंसी में नजर आई एक से बढ़कर एक खूबियां, दिखी धोनी की झलक

Jasprit Bumrah Captaincy: भारतीय क्रिकेट टीम इन दिनों आयरलैंड के दौरे पर है, जहां मेहमान टीम के खिलाफ 3 मैचों की टी20 इंटरनेशनल सीरीज खेली जा रही है।

दोनों ही टीमों के बीच खेली जा रही इस टी20 सीरीज का दूसरा मैच भी जसप्रीत बुमराह की कप्तानी में टीम इंडिया ने अपने नाम कर लिया है। आयरिश टीम को इस मैच में 33 रन से मात देने के साथ ही सीरीज में भी 2-0 के अजेय बढ़त बना ली है।

कप्तान बनते ही जसप्रीत बुमराह ने दिखायी कैप्टेंसी स्किल्स

टीम इंडिया के लिए इस दौरे पर कईं प्रमुख खिलाड़ी मौजूद नहीं है, ऐसे में यहां पर 10 महीनें 23 दिन के बाद जसप्रीत बुमराह को ना सिर्फ वापसी का मौका दिया बल्कि उन्हें बतौर कप्तान इस सीरीज में उतारा। जसप्रीत बुमराह को इस सीरीज का सबसे अनुभवी खिलाड़ी होने के नाते कप्तानी तो दी गई, लेकिन उन्होंने अपनी कप्तानी के टेस्ट में बहुत ही खास प्रभाव छोड़ा।

ये भी पढ़े-Yashasvi Jaiswal: अपने चेले का शानदार आगाज देखकर खुश हुए गुरू ज्वाला सिंह, यशस्वी को लेकर कही ये बड़ी बात

आयरलैंड सीरीज में बुमराह में दिखी धोनी की झलक

आयरलैंड के खिलाफ जसप्रीत बुमराह ने कप्तानी के मिले मौके का पूरा फायदा उठाते हुए अपनी परिपक्वता का नजारा पेश किया। उन्होंने यहां पर अपने अनुभव का पूरा फायदा उठाते हुए महेन्द्र सिंह धोनी, विराट कोहली और रोहित शर्मा की कप्तानी से सीखी कईं बातों का अमल करते हुए कमाल की स्किल्स दिखायी।

भले ही आयरलैंड की टीम कमजोर मानी जाती है, लेकिन जिस तरह से बुमराह ने बॉलिंग चेंजेस, बैटिंग ऑर्डर के साथ ही जरूरत के वक्त खुद से आगे दूसरे गेंदबाजों को आगे किया उससे उन्होंने अपने अंदर धोनी की झलक दिखायी।

MS Dhoni Captaincy: महेन्द्र सिंह धोनी भी बतौर कप्तान बाकी खिलाड़ियों को उनके हुनर के हिसाब से इस्तेमाल करते थे और बैटिंग ऑर्डर में खुद से आगे रखते थे। उन्होंने कप्तानी में सूझबूझ का शानदार परिचय दिया।

Jasprit Bumrah
Jasprit Bumrah

बॉलिंग में परिस्थितियों के अनुसार किया बदलाव

एक तरफ हाल ही में वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 सीरीज में हार्दिक पंड्या ने कप्तानी की वहां उन्होंने खुद को गेंदबाजी के लिए आगे लाया, तो साथ ही स्पिनर्स और अर्शदीप सिंह का सही से यूज नहीं कर सके, वहीं यहां पर बुमराह ने अपने गेंदबाजों को बहुत ही समझ के साथ इस्तेमाल किया।

इसमें उन्होंने परिस्थितियों का अंदाजा लगाते हुए अर्शदीप सिंह को नई गेंद से मौका दिया। तो साथ ही रवि बिश्नोई और वॉशिंगटन सुंदर जैसे अपने स्पिनर्स का भी सही से जरूरत के वक्त इस्तेमाल किया।

प्रसिद्ध कृष्णा की गेंदबाजी देखकर उन्हें भी पूरा मौका दिया। बुमराह ने जिस हिसाब से अपने गेंदबाजों का यूज किया, वो दिखाता है कि वो कप्तान के रूप में परिपक्वता को हासिल करते जा रहे हैं।

ये भी पढ़े- Jasprit Bumrah Injury:वर्ल्ड कप शेड्यूल जारी होते ही टीम इंडिया के स्टार तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की चोट पर आयी बड़ी अपडेट

बल्लेबाजी में भी नहीं की हार्दिक जैसी गलतियां

भारत के बैटिंग ऑर्डर में वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज में हार्दिक ने बहुत गलतियां की थी, कभी उन्होंने संजू सैमसन को पीछे किया, तो खुद को आगे किया, तो कभी सूर्यकुमार यादव का भी सही से यूज नहीं किया।

वहीं बुमराह ने अपने बैटिंग ऑर्डर में स्टेबलिटी दिखायी, जिसमें दोनों ही मैचों में शुरुआती चार बल्लेबाज उसी क्रम से उतरे, जिससे संजू को चौथे नंबर पर सही से मौका मिला, वहीं टीम की जरूरत के हिसाब से दूसरे मैच में रिंकू सिंह को शिवम दुबे से आगे रखा। जो दिखाया है कि वो बतौर कप्तान टीम की स्थिति के अनुसार फैसला लेने में समक्ष हैं।

भारत के अगले उपकप्तान बनने के बने दावेदार

21 अगस्त को भारतीय क्रिकेट टीम के चीफ सेलेक्टर अजीत आगरकर की नेतृत्व में टीम इंडिया के 15 सदस्यीय स्क्वॉड की घोषणा होने जा रही है। जिसमें कप्तान रोहित शर्मा के डिप्टी के रूप में कुछ दिन पहले ही हार्दिक पंड्या को लगभग तय माना जा रहा था, लेकिन कुछ ही दिनों में परिस्थितियों ने ऐसी करवट ली है कि अब टीम इंडिया के उपकप्तानी की दौड़ में जसप्रीत बुमराह आगे हो चुके हैं।

इंटरनेशनल क्रिकेट से करीब 11 महीनें बाद वापसी करने वाले जसप्रीत बुमराह को आयरलैंड सीरीज के लिए टीम की कमान संभालने का मौका मिला। कप्तानी की पहली ही अग्निपरीक्षा में बुमराह ने जबरदस्त स्किल्स का नजारा पेश किया। जहां उन्होंने इस सीरीज में ना केवल अपनी बॉलिंग से प्रभावित किया बल्कि उन्होंने अपनी कप्तानी में बॉलिंग से लेकर फील्डिंग और बैटिंग में लिए फैसले से दिखा दिया कि वो भारत के उपकप्तान बनने के लिए परिपक्व हो चुके हैं।

Virat Kohli ने वनडे क्रिकेट में रचा इतिहास, तोड़ा सचिन का रिकॉर्ड एशिया कप के इतिहास में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले टॉप-5 बल्लेबाज